चीन की चालाकी नहीं चलेगी !
चीन की चालाकी नहीं चलेगी !

चीन की चालाकी नहीं चलेगी !

********

चीन तेरी चालाकी अबकी

नहीं चलेगी नहीं चलेगी…

यह 1962 का नहीं 2020 का भारत है

तुझको दो चार टुकड़े करने का साहस है ।

दिल्ली में बैठी डगमग नहीं स्थिर सरकार है,

अबकी तो चीन में मचनी हाहाकार है ।

अजीत डोवल, अमित शाह , मोदी देख रहे हैं तुझको,

कठोर कार्रवाई कर झकझोरेंगे तुझको ।

शंघाई, बीजींग तक हिला डालेंगे,

थियानमेन चौक पर तिरंगा गाड़ेंगे।

चीन तेरी चालाकी अबकी

नहीं चलेगी नहीं चलेगी …

भारत को तू कमजोर आंकता आया है,

अंदरुनी मामलों में झांकता आया है ।

सरकारों की कमजोरी का तूने-

फायदा खूब उठाया है,

विश्व के विभिन्न मंचों पर तूने हमें धमकाया है।

जब से आए है मोदी केन्द्र की सरकार में,

नींद उड़ी हुई है तेरी बीजींग सरकार में ।

तख्तापलट की आशंकाओं ने तुझको घेरा है

अब बासठ का भारत नहीं साक्षात काल तेरा है।

छप्पन इंच की छाती वाले प्रधानमंत्री की हुंकार सुन,

तेरी घिघ्घी बंध गई है , जा छुपकर कहीं बैठ गाना सुन ।

वरना जब हम लाल आंख दिखाएंगे !

चीनीयों तुमको नानी याद दिलायेंगे ।

पेंगाॅग और गलवान को तो छुड़ाएंगे ,

साथ ही बीजींग,शंघाई को भारत में मिलाएंगे

हमारी अदम्य साहस और बलिदान के आगे,

कहीं नहीं टिक पाओगे,

अंतरराष्ट्रीय संधियों की आड़ ले वार्ता को आओगे ।

चीन तेरी चालाकी अबकी…

नहीं चलेगी नहीं चलेगी ।

यह 62 नहीं 2020 का भारत है..।

लेखक-मो.मंजूर आलम उर्फ नवाब मंजूर

सलेमपुर, छपरा, बिहार ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here