छिंदवाड़ा – आनंदम टाउनसिप छिंदवाड़ा में आनंदम रहवासीयों द्वारा होलिका दहन की रात रंगारंग कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ! इस कवि सम्मेलन में नगर व नगर के बाहर से पधारे कवियों ने काव्य के अलग-अलग रंग गीत, गजल, छंद, हास्य और व्यंग के रंगों की अपनी काव्यमयी पिचकारी से बौछार करते हुए श्रोताओं को काव्य के आनंद में देर रात तक भिंगोया!

कार्यक्रम का बेहतरीन संचालन कवि तरुण जैन ने किया! कार्यक्रम का शुभारंभ कविता भार्गव द्वारा प्रस्तुत सरस्वती वंदना से हुआ श्रीमती पूनम माहोरे (योगा हीलर) द्वारा कार्यक्रम के पूर्व में मंचासीन कवियों का स्वागत कराया गया!

देर रात तक चले इस कवि सम्मेलन में काव्य की पहली बौछार चौरई से पधारे युवा कवि रहेश वर्मा ने अपनी हास्य कविताओं से किया!

चांद से पधारे युवा कवि अंकित विश्वकर्मा ने देश भक्ति से लबालब ओजमयी कविताओं से नया माहौल दिया! कवि शशांक पारसे ने अपनी रचनाओं से समां बांधा! रस परिवर्तन करते हुए फागुन की गुनगुनाहट को कविता के माध्यम से व्यक्त करने में कवियत्री कविता भार्गव सफल रही!

गंभीर चिंतन की रचना प्रस्तुत करते हुए कवि रमाकांत पांडेय ने अच्छा माहौल बनाया ! व्यंग्य के जाने पहचाने सशक्त हस्ताक्षर कवि विशाल शुक्ल ने अपने चुटीले हास्य व्यंग्य से गुदगुदाया! लोक भाषाओं के सुंदर मुहावरों से सजी रचनाओं का खूबसूरत चित्रण कवि अवधेश तिवारी ने करते हुए लोगों की काफी तालियां बटोरी!

कवियत्री किरण सोनी ने अपने मधुर गीतों के जरिए लोगो में छाप छोड़! युवा कवि तरुण जैन ने अपने बेहतरीनअंदाज में हास्य कविताओं से श्रोताओं को मंत्र मुग्ध किया! कार्यक्रम के अंत में ऑल राउंडर कवि रत्नाकर रतन ने अपनी अलग-अलग विधाओं की रचनाओं से कार्यक्रम को ऊंचाइयां प्रदान की!

उल्लेखनीय है कि आनंदम टाउनसिप में होलिका दहन और कवि सम्मेलन के आयोजन का यह प्रथम वर्ष था कॉलोनी वासियों द्वारा कार्यक्रम में सभी के लिए बैठक और भोजन की शानदार व्यवस्था की गई थी! कार्यक्रम की सफलता पर आभार प्रदर्शन योग गुरु हेमंत माहोरे द्वारा किया गया!

YouTube video

यह भी पढ़ें :-

होली पर्व पर ब्रजभूमि पटल पर भव्य एवं विराट काव्य गोष्ठी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here