Home Blog

यहां तो जिंदगी में ग़म रहा है

यहां तो जिंदगी में ग़म रहा है     यहां तो जिंदगी में ग़म रहा है ख़ुशी का कब यहां आलम रहा है   वफ़ा के नाम पत्थर मारे उसनें निगाहें...

श्रीगंगा-स्तुति

श्रीगंगा-स्तुति (गंगा दशहरे के शुभ अवसर पर)   जगत् पावनी जय गंगे। चारों युग त्रिलोक वाहनी त्रिकाल-विहारिणी जय गंगे।।   महा वेगवति, निर्मल धारा, सुधा तरंगिनी जय गंगे। महातीर्था, तीर्थ माता...

वो हक़ीक़त में रूठे थे और रूठे ख़्वाब में

वो हक़ीक़त में रूठे थे और रूठे ख़्वाब में     वो हक़ीक़त में रूठे थे और रूठे ख़्वाब में कर गये है वो गिले कल रात ऐसे...

जानें कब आएंगे अपने अच्छे दिन!

जानें कब आएंगे अपने अच्छे दिन! ******** गरीबों तुमने.. बहुत कुछ झेला है! बहुत कुछ झेलना बाकी है, इतिहास इसका साक्षी है। अभी महामारी और कोरोना का दौर है, गरीबों के...

जब से तेरी पायल छनक गयी

जब से तेरी पायल छनक गयी     जब से तेरी  पायल छनक गयी! प्यार में धड़कन ये बहक गयी   हो गया प्यार में दिल पागल वो निगाहें ऐसी  मटक...

रहा हौंसला हर मुसीबत में भारी

रहा हौंसला हर मुसीबत में भारी   रहा हौंसला हर मुसीबत में भारी। सताया सभी ने हमें बारी-बारी।।   मिटे दिल के अरमां रहे सोच के चुप। किसी रोज होगी...

तुझको दिल देख बहल जाता है

तुझको दिल देख बहल जाता है     तुझको दिल देख बहल जाता है। इक तेरा साथ हमें भाता है।।   डाल के आंखें तेरा आंखों में। यूं मुस्काना ग़ज़ब सा...

क्या कहूं! ये इश्क नहीं आसां

क्या कहूं! ये इश्क नहीं आसां ******** साजिश की बू आ रही है घड़ी घड़ी उसकी याद आ रही है इंतजार करके थक गया हूं फिर भी नहीं आ...

आज आंखों में नमी है देखिए

आज आंखों में नमी है देखिए     आज आंखों में नमी है देखिए! जीस्त में उसकी कमी है देखिए   लौट आ तेरे बिना ए सनम कितनी तन्हा जिंदगी है...

किसी से नहीं अब रही आस बाकी

किसी से नहीं अब रही आस बाकी     किसी से नहीं अब रही आस बाकी। रहा अब कहीं पर न विश्वास बाकी।।   मिटे प्यार में इस तरह हम...