Home Blog

Ghazal | कैसा दौर जमाने आया

कैसा दौर जमाने आया ( Kaisa Daur Jamane Aya )   कैसा   दौर   जमाने   आया। लालच है हर दिल पे छाया।।   बात  कहां  वो अपनेपन की। सब कुछ लगता आज...

Ghazal | तुझसे मुख्फी करते हुए भी डर लगता है

तुझसे मुख्फी करते हुए भी डर लगता है ( Tujhse Mukhphi Karte Hue Bhi Dar Lagta Hai )   तुझसे मुख्फी करते हुए भी डर लगता...

Ghazal | लकीर

लकीर ( lakeer )   हाथों की उलझी लकीरों में, तेरा नाम ढूंढ रहा हूँ। इक  बार  नही कोशिश ये, बार बार कर रहा  हूँ। शायद  नही तू किस्मत...

Ghazal || मिटा जब तेरा नाम इस दिल के...

मिटा जब तेरा नाम इस दिल के दर से (Mita Jab  Tera Naam Is Dil Ke Dar Se)     मिटा जब तेरा नाम इस दिल के दर...

Book Review | मेरी नजर में ‘आका बदल रहे हैं’ ग़जल...

मेरी नजर में 'आका बदल रहे हैं' ग़जल संग्रह 'आका बदल रहे हैं'- गजल संग्रह, श्री विजय तिवारी का एक बहुत सार गर्भित ग़जल संग्रह...

Ghazal || जुगनू आये नया उजाला लेकर

जुगनू आये नया उजाला लेकर ( Jugnoo Aaye Naya Ujala Lekar )   बुझते  दीपक  मे  साथ  जलने आई  हूं अपनी सारी ही तमन्नाए साथ लाई  हूँ खुदको खोकर...

Ghazal || हुंकार का दिल

हुंकार का दिल ( Hunkaar Ka Dil )     मूंगफली  के  दाने  सा,  छोटा  सा  दिल  है  मेरा। उसपर भी ना सम्हाला तुझसे,ला दिल वापस मेरा।   कोई कही तो...

Ghazal || न जाने कौन सी बीमारी है

न जाने कौन सी बीमारी है ( Na Jane Kaun Si Bimari Hai )     जिगर में दर्द अश्क जारी है। न जाने कौन सी बीमारी है।।   शुकून लाऊं...

Kavita अनमोल धरोहर

अनमोल धरोहर ( Anmol Dharohar )   बेटी हैं अनमोल धरोहर, संस्कृति और समाज की। यदि सभ्यता सुरक्षित रखनी, सींचो मिल सब प्यार से ।।   मां के पेट से बन न...

Ghazal गए छोड कर वो हमें एक पल में

गए छोड कर वो हमें एक पल में ( Gae Chhod Kar Wo Hame Ek Pal Mein )   गए  छोड  कर  वो  हमें  एक  पल में।। लुटा...