मैनेजमेंट गुरु- मां | Management Guru Maa

वर्तमान समय में मैनेजमेंट के गुण सीखाने के लिए बड़े-बड़े इंस्टिट्यूट बन गए हैं । परंतु सबसे बड़ी इंस्टीट्यूट तो घर की मां है।...

क्या भारत यूरोप का गोदाम था

क्या भारत यूरोप का गोदाम था भावार्थ लेखक - कुमार अहमदाबादी रुबाई का भावार्थ समझने से पहले कवि अकबर इलाहाबादी के जीवनकाल के बारे में थोडी...

गुप्त साधनाओं एवम् अपने ईष्ट की प्रसन्नता के लिए गुप्त नवरात्रि...

नवरात्रि का यदि हम स्मरण करते हैं तो विशेष रूप से नवदुर्गा में दुर्गा पूजा का भाव आता है वैसे हम वर्ष में दो...

जुदाई के ज़ख्म | Judai ke Zakhm

सन् 1971 की हिंद पाक लड़ाई के दौरान बेघर होकर आये पाक विस्थापित लोगों में एक मात्र मैं एक शख़्स़ हूं जो छठ्ठी बार...

जुदाई एक नासूर | Judai ek Nasoor

बर स़ग़ीर मुल्क भारत के लिये सन् 1946 का विभाजन भारत पाकिस्तान एक अभिशाप के रूप में स़ाबित हुआ भारत से मुस्लिम समुदाय ओर...

पीड़ित मानवता के सच्चे सपूत : डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी

मानव पीड़ा को जिसने भी अपनी पीड़ा समझ उसके दुखों को कम करने का प्रयास किया उनमें डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रमुख थें ।...

हर समस्या का समाधान है योग

21 जून को हम धरतीवासी योग को योग दिवस के रूप में मनाते हैं। भौगोलिक दृष्टिकोण से 21 जून, उत्तरी गोलार्द्ध का सबसे बड़ा...

रोगों से मुक्ति मिलती है हास्य योग से

आज का मनुष्य जीवन में बड़ा हताश निराश दिखाई पड़ता है। बचपन की उन्मुक्त हंसी जैसे उसकी जिंदगी से खो सी गई है। यही...

जब जब सुरसा बदन बढ़ावा | आलेख

सुरसा बाधा का प्रतीक है। जीवन में हम जब श्रेष्ठ कार्य करने चलते हैं तो अनेकानेक लोग बाधाएं उत्पन्न किया करते हैं । अब...

महर्षि वाल्मीकि और बाल्मिकी समाज

आश्रम का पूरा वाल्मीकि समाज राम कथा का गायन करता था। यह समाज राम कथा गा-गाकर राममय हो गया था। दूर-दूर से श्रोतागण इस...