पता है | Pata hai

पता है ( Pata hai )   जब विश्वास टूटता है, उस वेदना का कोई परिसीमन नहीं होता, क्यों कि हर टूटने वाली चीज़ भी दोबारा जोड़ी जा...

जिन्दगी | Zindagi

जिन्दगी ( Zindagi )   हमेशा तो ये नहीं होता कि जो हम चाहें, जिन्दगी वैसे ही चले। उतार-चढ़ाव जीवन का हिस्सा है। धीरे-धीरे हम शिकायतें करना बंद कर...

बदला | Dr. Preeti Singh Parmar Ki Kalam Se

बदला ( Badla ) फेसबुक पर एक पड़ी हुई पोस्ट देख कर आश्चर्य हुआ सामान्य जाति की मां के बने हुए हाथ के बने हुए भोजन...

न्याय हराएको देश | Nepali Sahityik Rachana

न्याय हराएको देश ( Nyaya harayeko desh )     यो आमा बुवा ले दिएको संकार को हार हो, यो व्यक्ति को मात्रै हार हैन, सम्पूर्ण मानव सभ्यता, यो...

आमा | Aama

आमा ( Aama ) ‌ ‌। सम्पूर्ण आमाहरु मा समर्पित। ।   आमा त्यि ‌झ्याल हुन्, जसबाट एक अबोध शिशुले पहिलो पटक दुनियालाई हेर्छ। शिशु आमाको त्यो अंश...

शोर | Shor

शोर ( Shor ) बिरहा की लंबी साधना के बाद प्रिय के साक्षात दर्शन होंगे। मन के किसी कोने में एक अज्ञात सुख की वर्षा होगी...

नाजुक रिश्ते | Najuk rishtey

नाजुक रिश्ते ( Najuk rishtey )   क्या कभी आप सभी ने देखा है, या महसूस किया है,कभी समझने की कोशिश की है, कि जब एक बहुत...

गुलमोहर | Hindi sahitya ki rachna

गुलमोहर ( Gulmohar ) अगर कोई मुझसे पूछे के एक ऐसी चीज़ जो हमेशा मेरे साथ रही है, तो मैं कहूँगा वो मोहल्ले का पुराना गुलमोहर...

भाग कर प्रेम और विवाह | डॉ.कौशल किशोर श्रीवास्तव की कलम...

भाग कर प्रेम और विवाह ( Bhag kar prem aur vivah )   पत्नि ने मुझसे चिरोरी करते हुए कहा “चलो हम भाग कर शादी कर ले।...

डा0 अलका अरोड़ा के संचालन में हृदयांगन संस्था मुंबई का...

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर हृदयांगन साहित्यिक एवं सामाजिक संस्था मुंबई ने एक शाम देश के नाम कार्यक्रम 14 अगस्त 2021 को आयोजित...