बॉलीवुड के 10 सबसे विवादित फिल्मे
बॉलीवुड के 10 सबसे विवादित फिल्मे

बॉलीवुड फिल्मों को लेकर समय-समय किसी न किसी बात को लेकर हंगामा होता रहा है। यह बॉलीवुड में कोई नई बात नही है। कभी-कभी विवाद फिल्म के टाइटल को लेकर होता है तो कभी उसमे दिखाए गए कंटेंट की वजह से, वैसे अगर देखा जाए तो विवादित फिल्मों की लिस्ट काफी लंबी चौड़ी है।

लेकिन कुछ ऐसी फिल्में रही हैं जो विवादों में सबसे ज्यादा रही लेकिन इसके बावजूद दर्शकों ने उन्हें बहुत पसंद किया। आज हम जानेंगे 10 ऐसी बॉलीवुड फिल्मों के बारे में जो सबसे विवादित मानी जाती हैं, जिनके रिलीज होते ही हंगामा मच गया था, लेकिन इन्हें दर्शकों खूब पसंद किया

निशब्द :-

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और दिवंगत अभिनेत्री जिया खान की फिल्म निशब्द को लेकर खूब हंगामा मचा था। यह फिल्म साल 2007 में रिलीज हुई थी।

यह एक लव स्टोरी फिल्म थी जिसमें एक उम्रदराज व्यक्ति को अपनी बेटी की सहेली से ही प्यार हो जाता है। फिल्म को लेकर इतना विवाद हुआ था कि कई जगहों पर इस फिल्म के पोस्टर भी फाड़ दिए गए थे।

फायर :-

फरार एक बेहद विवादित फिल्म रही है। इसका निर्देशक दीपा मेहता ने किया है। यह दो महिलाओं के समलैंगिक रिश्ते पर आधारित है।

मूल रूप से यह मध्यम वर्गीय परिवार की दो महिलाओं की कहानी है, जो रिश्ते में देवरानी और जेठानी है, लेकिन एक दूसरे के प्रति आकर्षित होती है। कई संगठनों ने इस फिल्म का काफी विरोध भी किया था।

पेटेंड हाउस :-

यह एक ऐसी फिल्म है जिसमें एक बुजुर्ग व्यक्ति और एक लड़की के बीच संबंध को फिल्म में दिखाया गया है। यह फिल्म साल 2015 में बनी थी। जब यह फिल्म रिलीज हुई थी तो इस फिल्म को लेकर बहुत बवाल मचा था।

अनफ्रीडम :-

सबसे विवादित फिल्मों में एक फिल्म अनफ्रीडम का नाम भी शामिल है। इस फिल्म पर रिलीज होने के बाद बैन लगा दिया गया था क्योंकि यह समलैंगिक रिश्ते पर आधारित थी और फिल्म में काफी ज्यादा अश्लील कंटेंट उपलब्ध थे, जिसकी वजह से सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को रिलीज करने की मंजूरी नही दी थी।

कामसूत्र :-

यह फिल्म 1996 में आई थी, जिसका देश भर में जमकर विरोध हुआ था। इस फिल्म में कई बोल्ड और न्यूड सेन भी दिखाए गए थे। इस फिल्म का निर्देशन मीरा नायर ने किया था।

सिंस :-

बॉलीवुड फिल्मे हंगामा

सिंस एक विवादित फिल्म रही है। यह 2005 में यशराज बैनर के तले बनी थी। इस फिल्म में एक जवान लड़की और एक पादरी के प्रेम प्रसंग को दिखाया गया है। इस फिल्म को लेकर सबसे ज्यादा विरोध ईसाई धर्म के लोगों द्वारा किया गया था।

ब्लैक फ्राईडे

ब्लैक फ्राईडे फिल्म साल 2004 में फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप के निर्देशन में बनी थी। यह 1993 में हुए मुंबई के सीरियल धमाकों पर आधारित है, जो कि हुसैन जैदी की किताब ब्लैक फ्राईडे : ट्रू स्टोरी ऑफ मुंबई बम ब्लास्ट पर बनाई गई थी। यह फिल्म उन घटनाओं को भी दिखाती है जो बम धमाके और उसके बाद की पुलिस की जांच की वजह बन जाती है।

वाटर :-

2007 में आई दीपा मेहता की फिल्म वाटर का भी काफी विरोध हुआ था। इसमें विधवा महिलाओं के जीवन से जुड़े रहस्य की दुनिया फिल्माया गया था। इस फिल्म को एकेडमी अवार्ड 2007 के लिए नॉमिनेशन भी मिला था।

पीके :-

बॉलीवुड फिल्मे हंगामा

2014 में आई आमिर खान की ब्लॉकबस्टर फिल्म पीके को को लेकर कुछ संगठनों द्वारा विवाद हुआ था। फिल्म पर धर्म को लेकर गलत बयानबाजी फैलाने का आरोप भी लगाया गया था। कई संगठनों ने विभिन्न जगहों पर इस फिल्म के पोस्टर जला दिए थे।

गैंग ऑफ वासेपुर :-

बॉलीवुड फिल्मे हंगामा

गैंग्स ऑफ वासेपुर अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित फिल्म है, जिसे साल 2012 में रिलीज किया गया था। इस फिल्म मे गाली और दर्शाए गए आपत्तिजनक दृश्यों को लेकर बहुत बवाल मचा था। लेकिन दर्शकों को यह फिल्म बहुत पसंद आई और सुपरहिट रही थी।

यह भी पढ़ें :  

रहस्मयी रेखा जो आज भी बिना शादी के मांग में सिन्दूर लगाती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here