Home कविताएँ

कविताएँ

प्रकृति से खिलवाड़ मत करो…………||

प्रकृति से खिलवाड़ मत करो............|| १) प्रकृति से खिलवाड़ मत करो, कुछ सोचो अत्याचार न करो प्रकृति है तो हमारा जीवन है, वरना कुछ भी नहीं...

°°° साम्प्रदायिकता °°°

°°° साम्प्रदायिकता °°° है, अंधी विषकन्या इसकी आँधी जब जहां चली, छोड़ती गई विनाश, गहरे दाग, मरघट सा सन्नाटा  !! सम्प्रदायिकता की खेती की जाती है !! मंदिर , मस्जिद, गिरिजाघर...

°°°°°°°°°हिन्दी °°°°°°°°

-->हिन्दुस्तान के हिन्दी हैं हम .........|| १.बड़ी मधुर मीठी है ,सुन्दर है सुरीली है | दिल को छू लेने वाली,नाजुक और लचीली है | हर हिंदुस्तानी की...

°°°हमारा कश्मीर°°°

°°° हमारा कश्मीर °°° --> हमारे कश्मीर की धरती , रानी भारत देश की || 1.वो कश्मीर की यादें, वो सुनहरी वादियाँ | हो रही हों जैसे,...

°°°°°°°° “तस्बीरें” °°°°°°°°

हर पल की यादें होती हैं "तस्बीरें" || १. हर तस्बीर कुछ कहती है ,हर तस्बीर की एक कहानी है | हर पल थमा सा लगता...

°°°°°°°°°°स्वच्छता °°°°°°°°°°

°° स्वच्छता °° १.स्वच्छ भारत अभियान का समर्थन करो | गंदगी को साफ करो,स्वच्छ भारत का निर्माण करो ||   २.किसी एक के बस की बात नहीं,सबको मिलकर...

🌾 तुम्हे रुलाने आया हूँ 🌾

🌾 तुम्हे रुलाने आया हूँ 🌾   हंसने वालो सुनो जरा तुम तुम्हे रुलाने आया हूँ। अश्कों की बरसातों मे आज तुम्हे नहलाने आया हूँ।। जिसको सुनकर झुम...

मुझे उड़ने दो

मुझे उड़ने दो मैं तितली हूं.. मुझे उड़ने दो ।  मुझे मत रोको, मुझे मत टोको,  मुझे नील गगन  की सैर करने दो ।। मेरे पंखों को मत कतरो, मेरे हौसलों को...

°°° वो बचपन के दिन °°°

°°° वो बचपन के दिन °°° कहाँ गए बचपन के, सुनहरे प्यारे "वो" दिन || 1. कुछ पल ही सही,पर हम भी कभी,साहूकारों मे आते थे...

°°°प्यारा हिन्दुस्तान°°°

---> प्यारा हिन्दुस्तान हमारा,प्यारा हिन्दुस्तान || 1.गणतंत्र हमारा प्यारा सबसे,प्यारा हिन्दुस्तान | ऊँचा सबसे दिखे तिरंगा,हमारा न्यारा हिन्दुस्तान | जब तक गंगा-जमुना बहतीं,गगन मे निकले सूरज | नाम...