युवा रचनाकारों के लिए अनूठा शुभ समाचार

 

स्वामी विवेकानंद जयंती अर्थात ‘अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस’ पर एक लंबे समय से अपेक्षित शुभ समाचार आप सब तक पहुंचाते हुए आनंद की अनुभूति हो रही है। हम सब जानते हैं स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के संदर्भ में साहित्य अकादमी, मध्य प्रदेश युवा रचनाकारों के लिए एक महत्वपूर्ण योजना को मूर्त रूप देना चाहती थी।

उस योजना को मा. मुख्यमंत्रीजी श्री शिवराज सिंह जी चौहान और संस्कृति मंत्रीजी सुश्री उषा ठाकुर दीदी की स्वीकृति प्राप्त हो गई है और आज युवा दिवस पर ही इस योजना की घोषणा करते हुए मैं अपने जीवन की धन्यता अनुभव कर रहा हूं। हम 75 युवा रचनाकारों को पुस्तक लेखन हेतु चयन करेंगे।

संपूर्ण मध्यप्रदेश के युवाओं से आव्हान करता हूं कि वे दिए गए पत्र के नियमों को समझकर साहित्य अकादमी मध्यप्रदेश के पते पर अपनी पुस्तक की पूर्व योजना (सिनॉप्सिस) 5000 शब्दों में बनाकर प्रस्तुत करें।

यदि आप चयनित होते हैं तो प्रत्येक को प्राप्त होंगे ₹50,000 (पचास हजार रु) छात्रवृत्ति के रूप में अर्थात 75 युवाओं को कुल 37 लाख 50 हजार की छात्रवृत्ति। साथ ही आपकी पुस्तक का प्रकाशन भी साहित्य अकादमी करेगी।

विशेष आभार श्री शिवशेखर शुक्ला जी (प्रमुख सचिव संस्कृति) एवं श्री अदिति कुमार त्रिपाठी जी (संचालक संस्कृति संचालनालय) के प्रति।

डॉ विकास दवे
निदेशक, साहित्य अकादमी, म प्र

 

यह भी पढ़ें : –

बाल साहित्य के राष्ट्रीय सम्मान घोषित

1 टिप्पणी

  1. प्रशंसनीय सत्प्रयास हेतु बहुत बहुत शुभकामनाएं 🙏
    डॉ गोपेश वाजपेयी संपादक साहित्य समय मासिक भोपाल।
    सामाजिक समरसता मंच भोपाल
    दीर्घ कथा विधा प्रमुख भोपाल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here