बच्चों में बढ़ रही है नशे की लत
बच्चों में बढ़ रही है नशे की लत

बच्चों में बढ़ रही है नशे की लत!

 

सिर्फ बालीवुड में ही नहीं-
देशभर में बढ़ी है नशे की लत,
उछाल आया है बड़ी जबरदस्त।
सिर्फ रिया,करिश्मा, दीपिका को ही नहीं-
बच्चों , किशोरों को भी लगी है इसकी लत,
भैया सोचो कितना है यह गलत ?
हमें नशे से युवा पीढ़ी को बचाना चाहिए,
समाज और स्वयं सेवी संस्थाओं को आगे आना चाहिए;
सरकारों को कठोर नियंत्रण करना चाहिए।
केन्द्र सरकार की रिपोर्ट के अनुसार,
नशा करने वाले बालक, किशोर हैं बेशुमार।
1.48 करोड़ बच्चे-
अल्कोहल अफीम भांग कोकीन ले रहे हैं,
मंत्री रामलाल कटारिया संसद में कह रहे हैं;
30 लाख बच्चे तो शराब पी रहे हैं।
18-75 आयुवर्ग में-
15.10 करोड़ लोग शराब पी रहे हैं,
40 लाख बच्चे अफीम-
20 लाख मांग खा रहे हैं।
50 लाख कश के जरिए नशा कर रहे हैं,
2 लाख बच्चे कोकीन-
तो 4 लाख बच्चे उत्तेजना पैदा करने वाले पदार्थ ले रहे हैं।
यह सब मैं नहीं,
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री-
कटारिया ने लो.स में लिखित जवाब में दी।
नशा पर नियंत्रण के लिए वर्ष 2018-25 का एक्शन प्लान बनाया गया है,
तेजी से उस पर काम हो रहा है।
विशेषज्ञों के अनुसार नशे के कारण बच्चे आक्रामक हो रहे हैं,
अल्पायु में ही अपराध करने लग रहे हैं।
एकाग्रता की कमी हो जाती है,
नशे की प्रवृत्ति बढ़ती जाती है।
घर परिवार में कोई नशा करता है,
तो बच्चों पर भी असर पड़ता है।
मानसिक तनाव से भी लोग ऐसा करते हैं,
व्यस्त जिंदगी में बच्चों को समय नहीं दे पाते हैं।
जिससे बच्चे गलत संगत में पड़,
जाते हैं बिगड़ ।
नशा के हो जाते हैं आदी,
जिसके कारण परिवारों की होती है बर्बादी।
जो देश समाज के लिए सही नहीं है,
इसीलिए यह बात कही गई है
” नशा नाश का जड़ है भाई
फल इसका अति दुखदायी ”
चिंतित मंजूर सबसे कह रहे हैं,
बच्चों को नशा से बचाने का मंत्र दे रहे हैं।
“सोचो समझो चेतो
अपने अपने बच्चों को देखो
ज्यों बदले व्यवहार, त्यों उसे टोको
समझा बुझाकर नशा करने से रोको”

 

🍁

नवाब मंजूर

लेखक– मो.मंजूर आलम उर्फ नवाब मंजूर

सलेमपुर, छपरा, बिहार ।

यह भी पढ़ें :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here