Home व्यंग्य

व्यंग्य

सिद्धांतों की लड़ाई | Vyang Hindi

 सिद्धांतों की लड़ाई ( Siddhanton ki ladai : Vyang ) लडाई सिद्धातों की थी । सिद्धांत न होते तो लड़ाई की कोई बात नही थी। चूंकि...

जनहित में | Political vyang in Hindi

जनहित में ( Janhit mein : Hindi vyang ) प्रजातंत्र में तंत्र का हर कार्य जनहित में होता है यानि तंत्र जो भी उचित अनुचित कानूनी...

हाईकमान का गोपनीय पत्र लो कमान के नाम | Vyang in...

हाईकमान का गोपनीय पत्र लो कमान के नाम ( Highkaman ka gopaniya patra lowkaman ke naam : Vyang ) प्रिय लो कमान, मैं तुम्हारे  क्षेत्र में चुनाव...

प्रसन्नता का कारण | Vyang

प्रसन्नता का कारण ( Prasannata ka karan : Vyang ) प्रधानमंत्री एक विदेश से वापिस आये थे और दूसरे विदेश जाने की तैयारी में थे ।...

लाइन ऑफ फायर | Vyang

लाइन ऑफ फायर ( Line of fire : Hindi Vyang )   जनरल के नाम में ही रफ लगा है फिर उनसें साफ सुथरे व्यौहार की आशा करने...

Vyang | अफसर और सूअर

अफसर और सूअर ( vyang Hindi : Afsar aur suar ) अफसर को सूअर से घिन आती थी । केवल सूअर को सूअर से घिन नहीं...

मुकदमा कंप्यूटर पर | Vyang

मुकदमा कंप्यूटर पर ( Vyang : Mukadma computer par )   भोपाल गैस त्रासदी की बरसी मंह बाये मातम के रूप में खडी रहती है । शोक,...

खैराती अस्पताल का मरीज | डॉ.कौशल किशोर श्रीवास्तव की कलम से

खैराती अस्पताल का मरीज वे तीन डाॅक्टर थे ओर वह एक मरीज था । मरीज डाॅक्टरों को एक घन्टे से देख रहा था। पर वे...

भविष्यकर्ता | डॉ.कौशल किशोर श्रीवास्तव की कलम से

भविष्यकर्ता ( Bhavishyakarta ) उनकी समझदार पत्नी में उन्हें पुनः समझाने का निरर्थक प्रयास करते हुये कहा “मन्त्री ने निमन्त्रण पत्र मतदाता सूची देख कर वितरित...

माॅ का आर्शीवाद | डॉ.कौशल किशोर श्रीवास्तव की कलम से

दिन में तीन या चार बार गरमागरम खाने से औलाद का पेट भरने के साथ साथ मां पर यह कर्तव्य भी निर्धारित किया गया...