बन गयी है इक कहानी प्यार की
बन गयी है इक कहानी प्यार की

बन गयी है इक कहानी प्यार की

( Ban Gayi Hai Ik Kahani Pyaar Ki )

 

 

बन गयी है इक कहानी प्यार की

धड़कनों में है रवानी प्यार की

 

उम्रभर रुलायेगी जो आंखें मेरी

दें गया ऐसी निशानी प्यार की

 

नफ़रतों की दूर रख बू से हमेशा

जिंदगी हर पल  बितानी प्यार की

 

एक ऐसी सूरत देखी कल राहों में

धड़कनें उसकी दीवानी प्यार की

 

जो नहीं मेरा हुआ है हम सफ़र है

अब उसकी यादें भुलानी प्यार की

 

राह में जो कल मिला आज़म हंसी है

उससे आंखें ही मिलानी प्यार की

❣️

शायर: आज़म नैय्यर

(सहारनपुर )

यह भी पढ़ें : –

Ghazal | Amazing Urdu Poetry -प्यार के तू मुझपे गुलू कर दें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here