Nasihaten chhand
Nasihaten chhand

नसीहतें

( Nasihaten )

 

 

नसीहतें मां-बाप की

सुन लेना एक बार

जिंदगी सुधर जाए

एतबार कीजिए

 

भला चाहते आपका

अपने ही देते सीख

बड़ों की नसीहतों को

सम्मान दीजिए

 

नसीहतें ना दीजिए

कर्म भी जग में करे

हुनर दिखला कर

खूब यश लीजिए

 

जिंदगी की जंग में भी

हौसला रखना जरा

मुकाम हासिल कर

नसीहतें दीजिए

   ?

कवि : रमाकांत सोनी

नवलगढ़ जिला झुंझुनू

( राजस्थान )

यह भी पढ़ें :-

पावन तीर्थ धाम लोहार्गल | Kavita

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here