आखिर मिल ही गया रिश्ता | Kavita rishta

आखिर मिल ही गया रिश्ता ( Akhir mil hi gaya rishta )    आखिर मिल ही गया आज हमारे लिए रिश्ता, चार वर्ष से घूम रहें थें जिसके...

वाह जिंदगी | Kavita waah zindagi

वाह जिंदगी ( Waah zindagi )   वाह जिंदगी वाह क्या बात ! तूने याद दिलादी, मुझे मेरी पहली मुलाकात !   यू आईने के सामने खड़ा रहा घंटों देख रहा था...

लम्हों को कुरेदने से क्या फायदा | Poem on lamhon

लम्हों को कुरेदने से क्या फायदा! ( Lamhon ko kuredne se kya fayda )   घोर अंधकार है आफताब तो लाओ, हाथ को काम नहीं रोजगार तो लाओ। हुकूमत...

मचल गया दूल्हा फिर आज | Dulha par kavita

मचल गया दूल्हा फिर आज ( Machal gaya dulha phir aaj )    बहुत बताया नही माना दुल्हा, सबके सब सोच रहें क्या होगा। बोला गाड़ी मुझे दहेज में...

इतिहास याद रखेगा आपको | Poem in Hindi on late general...

इतिहास याद रखेगा आपको ( Itihas yaad rakhega aapko ) (सीडीएस बिपिन जनरल रावत को पुण्यतिथि पर शत-शत नमन)    इतिहास याद रखेगा आज हुआ हेलिकॉप्टर क्रेश, कीर्ति पताका...

बर्थडे पर कविता | Poem in Hindi on birthday

बर्थडे पर कविता ( Birthday par kavita )   प्यारी मैम हमारी हो कॉलेज की उजियारी हो नन्हे-मुन्ने हम फूलों की मैंम आप फुलवारी हो। तुम बच्चों में बच्चे हो अपने मन...

कैसा अजब ये जमाना आया | Poem on zamana

कैसा अजब ये जमाना आया ( Kaisa ajab ye zamana aaya )     आज कैसा अजब यह ज़माना आया, कही पर धूप और कही पर है छाया। हाल बेहाल...

मैं हूॅं फौजी | Fauji par kavita

मैं हूॅं फौजी ( Main hoon fauji )      मैं हूॅं फौज का एक फीट जवान, करता में देश की सुरक्षा जवान। डयूटी में नहीं लापरवाहीं करता, दिन व रात...

सहोदर | Sahodar par chhand

सहोदर ( Sahodar )    संग संग जन्म लिया, संग मां का दूध पिया। सहोदर कहलाए, एक मां के पेट से। सम सारे विचार हो, शुभ सारे आचार हो। रूप रंग मधुरता, गुण मिले...

अंधकार पीनेवाले | Kavita andhakar peene wale

अंधकार पीनेवाले! ( Andhakar peene wale )    किसी के जख्मों पर कोई नमक छिड़कता है, तो यहाँ मरहम लगाने वाले भी हैं। कोई हवा को रोने के लिए...