°°°°° जीत – हार और खुशी °°°°°

°°° जीत - हार और खुशी °°° वह जीत ही क्या जब तक हार न मिले वह खुशी ही क्या जब तक दुख न मिले ।   वो...

°°° यूँ तो °°°

°°° यूँ तो °°° यूं तो अकेले जीने का हौसला रखती हूं, फिर कभी किसी का साथ क्यों चाहती हूं ।   यूं तो मंजिल अकेले ही तय...

कुछ लफ़्ज़ों में भावनाओं की अभिव्यक्ति

कई कई अर्थ लिए कुछ लफ़्ज़ों में भावनाओं की अभिव्यक्ति 1.   जुबाँ है पर आवाज नहीं,         और खामोशी में भी बातें हैं...