दिल का हाल बताएगी सेल्फी
दिल का हाल बताएगी सेल्फी

दिल का हाल बताएगी सेल्फी
*****

दिल के मरीजों के लिए है खुशखबरी,
दिल का हाल बताएगी अब सेल्फी ।
अभी दुनिया में 31% मौतें हृदय रोगों से होती है,
जिनमें 85% की मौतें हृदयाघात से होती है।
हृदय रोगों की चुनौती से निपटने के लिए लगातार शोध हो रहे हैं,
विद्वान अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भी सहारा ले रहे हैं।
इसी कड़ी में शोधकर्ताओं ने एक साफ्टवेयर तैयार किया है,
जो बिना ब्लड टेस्ट और ईसीजी किए दिल का हाल बता सकता है,
एक सेल्फी से ही दिल को परखा जा सकता है।
चीन के कार्डियोवस्कुलर नेशनल सेंटर ने ऐसा ही साफ्टवेयर तैयार किया है,
जो अलग-अलग कोणों से खींची सेल्फी का विश्लेषण कर दिल का हाल बता दिया है।
शोधकर्ताओं की मानें तो-
माथे, नाक और गाल वाला हिस्सा हृदयरोग का पता लगाने में मददगार है,
लेकिन इस साफ्टवेयर में अभी और सुधार दरकार है।
यह साफ्टवेयर चार लक्षणों से पहचान करता है-
जिसमें पतले या सफेद होते बाल, चेहरे की झुर्रियां, कानों का लटकना और जेंथेलाज्मा,
त्वचा के नीचे जमे कोलेस्ट्रॉल का पीला धब्बा है जेंथेलाज्मा।
प्रो.झेंग के मुताबिक 80% मामलों में इसका रिजल्ट सही है,
जिसे शत् प्रतिशत करनी है।
इससे मरीज की जांच आसानी से हो सकेगी,
दर्द वाले जटिल प्रक्रियाओं से नहीं गुजरनी होगी।
यह साफ्टवेयर हृदयरोग की जांच का सस्ता और टिकाऊ जरिया बन कर उभरेगा,
यह मरीज में दिल की बीमारियों से जुड़े लक्षणों की पुष्टि करेगा।
तभी डाक्टर जांच को आगे बढ़ेंगे,
इलाज का समुचित प्रबंध करेंगे।
ईश्वर करें कि जल्द से जल्द साफ्टवेयर आम हो जाए,
हृदय रोगियों की शीघ्र पहचान हो जाए।
समय पर सटीक इलाज होगा,
तो लाखों का जान भी बच सकेगा।

 

🍁

नवाब मंजूर

लेखक-मो.मंजूर आलम उर्फ नवाब मंजूर

सलेमपुर, छपरा, बिहार ।

यह भी पढ़ें : आम आदमी की किस्मत !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here