Pyar dil se nibha lo
Pyar dil se nibha lo

प्यार दिल से निभा लो

( Pyar dil se nibha lo )

 

 

प्यार दिल से निभा लो!

उम्रभर यूं ही वफ़ा   लो

 

नेक करके काम दिल से

रोज़ दिल से ही दुआ लो

 

छोड़ो ये नाराज़गी अब

प्यार से अपनें लगा लो

 

रिश्तें में बढ़ती मुहब्बत

घर कभी अपनें बुला लो

 

प्यार की बातें करके ही

नफ़रतें दिल से मिटा लो

 

आज़म को देकर वफ़ाये

फ़ूल उल्फ़त का सदा लो

❣️

शायर: आज़म नैय्यर

(सहारनपुर )

यह भी पढ़ें : –

देख लूँ जी भर के आपको एक पल| Romantic Ghazal

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here