सरस्वती-वंदना
सरस्वती-वंदना

सरस्वती-वंदना

( Saraswati-vandana )

🎸

वर्षा में …
भीगे जंगल को,
न अग्नि जला पाएगी।
अध्ययन में…
डूबे शख्स पर,
न दु:ख की आंच आएगी।।
तभी निखर पाएगी…
“कुमार” तेरी काव्य-कला भी।
विद्या-देवी सरस्वती,
जब निज कृपा बरसाएगी।।

🎸

कवि व शायर: Ⓜ मुनीश कुमार “कुमार”
(हिंदी लैक्चरर )
GSS School ढाठरथ
जींद (हरियाणा)

यह भी पढ़ें : 

किया दिल पे जादू तेरी सादगी ने

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here