Muskurana chahiye
Muskurana chahiye

मुस्कुराना चाहिए

( Muskurana chahiye )

 

गीत कोई प्यारा लगे तो गुनगुनाना चाहिए।

देख कोई अपना लगे तो मुस्कुराना चाहिए।

 

प्यार में शर्ते नहीं संबंध निभाना चाहिए।

हंसकर सबसे मिले प्रेम जताना चाहिए।

 

अपनापन अनमोल मोती खूब लूटाना चाहिए।

पल दो पल हमको भी सदा मुस्कुराना चाहिए।

 

आंधी तूफान आते जाते हौसला बढ़ाना चाहिए।

प्रीत भरी भावन बातें मस्त बहार लाना चाहिए।

 

खिलते सारे फूल कहते ना घबराना चाहिए।

हर मुश्किल हम पार करें मुस्कुराना चाहिए।

 

जोड़े दिलों के तार सभी संगीत सुहाना चाहिए।

जीवन का संगीत मधुर हो मुस्कुराना चाहिए।

 

?

कवि : रमाकांत सोनी सुदर्शन

नवलगढ़ जिला झुंझुनू

( राजस्थान )

यह भी पढ़ें :- 

हर तमन्ना खाक होकर रह गई | Tamanna poem

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here