Poem utsav aaj manaya hai
Poem utsav aaj manaya hai

उत्सव आज मनाया है

( Utsav aaj manaya hai )

 

जिन भावों को मन में धर कर, उत्सव आज मनाया है।
जिन भावों को राष्ट्रगान में, मिलकर हमने गाया है।।

 

जिन भावों से भारत माँ की, जय जयकार लगाई है
जिन भावों से अमर शहीदों को माला पहनाई है

 

एक निवेदन उन भावों को, निशदिन जिंदा रखना तुम।
हरपल अपने दिल में यारों, अमर तिरंगा रखना तुम।।

 

कल से भूल नहीं जाना कि, अपना देश महान है
कल से भूल नहीं जाना कि, हम इसकी संतान है

 

कल से भूल नहीं जाना तुम, देश धर्म की बातों को
कल से भूल नहीं जाना तुम, धरती माँ के नातों को

 

अमर शहीदों की कुर्बानी, निशदिन जिंदा रखना तुम।
हरपल अपने दिल में यारों, अमर तिरंगा रखना तुम।।

🌸

कवि भोले प्रसाद नेमा “चंचल”
हर्रई,  छिंदवाड़ा
( मध्य प्रदेश )

यह भी पढ़ें : –

आजादी का अमृत उत्सव | Poem azadi ka amrit utsav

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here