प्यार मेरा यार कब साकिन हुआ | Pyar mera shayari

प्यार मेरा यार कब साकिन हुआ ( Pyar mera yaar kab sakin hua )     प्यार मेरा यार कब साकिन हुआ अब बड़ा पाना उसे मुमकिन हुआ   प्यार मेरा...

हिफ़ाज़त वतन की | Watan par Shayari

( हिफ़ाज़त वतन की ) Watan par Shayari   करो हर क़दम पे हिफ़ाज़त वतन की करो सब वफ़ा से मुहब्बत वतन की अदू ख़ौफ़ खाए सदा भारत से...

प्यार की वो हवा नहीं आती

प्यार की वो  हवा नहीं आती   प्यार की वो  हवा नहीं आती! कोई ऐसी वफ़ा नहीं आती   भूल जाना अच्छा है उसको अब लौटकर कोई सदा नहीं आती   दोस्ती...

Ghazal | क्या खता थी नजर मिलाना था

क्या खता थी नजर मिलाना था ( Kya Khata Thi Nazer Milana Tha )     क्या  ख़ता  थी  नजर मिलाना था, लेके  खंजर  खड़ा  ज़माना  था।। हादशा   हुआ   तो ...

मेरी नींद का ख्वाब हो तुम | Meri Neend ka Khwaab...

मेरी नींद का ख़्वाब हो तुम ( Meri neend ka khwaab ho tum )   टूटे है भरम दिल के सभी तेरे दर से लौट आये हम   बस मेरा...

सोच चुप है | Soch shayari

सोच चुप है ( Soch chup hai )     सोच चुप है , मौन है क्यों ख़ामोश है   सोच पर लगान नहीं, कोई लगाम नहीं, तो   सोच को ज़बान दो कुछ अल्फ़ाज़ दो   सोच...

ढा रही है सितम सादगी आपकी

ढा रही है सितम सादगी आपकी     ढा  रही  है  सितम सादगी आपकी। कातिलाना अदा  यूं  सभी  आपकी।।   उस ख़ुदा की तरह दिल से चाहा तुझे। कर  रहा  है ...

तर्क-ए-आम ना कर मुझसे मुहब्बत का | Ghazal tark-e-aam

तर्क-ए-आम ना कर मुझसे मुहब्बत का ( Tark-e-aam na kar mujhse muhabbat ka )   सच का खिदमत भी हो तो कुछ इश्क़ की तरह कभी खैरियत भी...

वो खिला सा शबाब में चेहरा | Ghazal shabab chehra

वो खिला सा शबाब में चेहरा ( Wo khila sa shabab mein chehra )     यार  दीदार  कैसे होता फ़िर था  हंसी जो हिजाब में चेहरा   इस तरह देखा...

Sad Shayari | आंखों में अश्कों के समंदर रो रहे हैं

आंखों में अश्कों के समंदर रो रहे हैं ( Aankhon Mein Ashkon Ke Samandar Ro Rahe hain )     आँखों में अश्कों  के समंदर  रो रहे हैं! ग़म...