Kavita internet ki duniya
Kavita internet ki duniya

इंटरनेट की दुनिया

( Internet ki duniya )

 

इंटरनेट का आया जमाना मोबाइल चलन हुआ
कर लो दुनिया मुट्ठी में लाइव चैटिंग फैशन हुआ

 

मोबाइल में जान तोते की भांति मन में बसने लगा
साइबर अपराध बढ़ गए ठग नेट पर ही ठगने लगा

 

ऑनलाइन क्लासे चलती गुरुकुल विद्या आए कैसे
बैंकिंग बीमा व्यापार में पेटीएम गूगल पे लाए पैसे

 

शिक्षा साहित्य कलाओं की कई साइटें तैयार है
अमेजॉन फ्लिपकार्ट सारा ऑनलाइन व्यापार है

 

बदल रही जिंदगी सबकी वक्त ने करवट फेर ली
इंटरनेट हावी हो गया देखो सारी सुविधाएं घेर ली

 

यातायात चिकित्सा में भी नेट जरूरी हो गया
पत्राचार जीमेल होता पोस्टकार्ड अब खो गया

 

परीक्षाओं के फार्म भी अब ऑनलाइन भरे जाते
बड़े-बड़े संगठन परीक्षाएं ऑनलाइन ही करवाते

 

समय मिले तो प्यारे लाइव चैटिंग पे चले आना
कुछ गीत हमारे सुन कुछ दिल का हाल बताना

 

 ?

कवि : रमाकांत सोनी सुदर्शन

नवलगढ़ जिला झुंझुनू

( राजस्थान )

यह भी पढ़ें :-

वजह | Kavita wajah

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here