होम 2022 जुलाई

मासिक आर्काइव: जुलाई 2022

तू प्यार की हमेशा दिल में चाह कर | Pyar wali...

तू प्यार की हमेशा दिल में चाह कर ? ( Tu pyar ki hamesha dil mein chah kar )     तू प्यार की हमेशा दिल में चाह...

मित्र | Kavita mitra

मित्र ( Mitra )   लम्हे सुहाने हो ना हो,चाहत की बातें हो ना हो। प्यार हमेशा दिल में रहेगा,चाहे मुलाकात हो ना हो।   खुशियों में गम़ मे भी...

हुस्न के खिलते से चेहरे | Husn shayari

हुस्न के खिलते से चेहरे ( Husn ke khilte se chehre )     हुस्न के खिलते से चेहरे के लिए ! फूल भेजे ख़ूब रिश्तें के लिए   प्यार की...

मेरा परिचय | Mera parichay | Kavita

मेरा परिचय ( Mera parichay )   मैं अगम अनाम अगोचर हूँ ये श्रृष्टि मेरी ही परछाई   मैं काल पुरुष मैं युग द्रष्टा मानव की करता अगुआई   मेरी भृकुटि स्पंदन से आती...

शिव | Shiva | Chhand

शिव ( Shiva ) मनहरण घनाक्षरी   नाग वासुकी लपेटे, गले सर्प की माला है। त्रिनेत्र त्रिशूलधारी, शंकर मनाइए।   डमरु कर में लिए, नटराज नृत्य करें। चंद्रमा शीश पे सोहे, हर हर गाइये।   जटा गंगधारा बहे, कैलाश...

चूड़ियां | Chudiyan | Kavita

चूड़ियां ( Chudiyan )   रंग बिरंगी हरी लाल खन खन करती चूड़ियां नारी का अनुपम श्रृंगार सुंदर-सुंदर चूड़ियां   आकर्षण बढ़ाती चूड़ी पिया मन लुभाती चूड़ी नारी सौंदर्य में चार...

झूले पड़ गए सावन के | Jhule pad gaye sawan ke

झूले पड़ गए सावन के ( Jhule pad gaye sawan ke )   आजा साजन आजा साजन झूले पड़ गये सावन के उमड़ घुमड़ बदरिया छाई बूंदे बरसे...

मेरे दरमियाँ | Ghazal mere darmiyan

मेरे दरमियाँ ( Mere darmiyan )     कहाँ वो बैठा मेरे दरमियाँ  और उसी से मैं करता बातें बयाँ और   नहीं पहली थमी है यादों की टीस लगी है...

भोले बाबा की चली रे बारात | Geet Bhole Baba Ki...

भोले बाबा की चली रे बारात ( Bhole Baba Ki Chali Re Baraat )   भोले बाबा की चली रे बारात झूमो नाचो रे देवन असुर हो लिये...

सेना की चाहत | Poem sena ki chahat

सेना की चाहत ( Sena ki chahat )   मैं भारतीय सेना की आन,बान और शान हूं।     पर देश द्रोहियों के लिए मौत का सामान हूं।। भारत...