होम 2022 अगस्त

मासिक आर्काइव: अगस्त 2022

जल गये लोग | Aazam shayari

जल गये लोग उसको गुलाबी कहाँ! ( Jal gaye log usko gulabi kahan )     जल गये लोग उसको गुलाबी कहाँ! फूल सा खिलता जब शबाबी कहाँ   अंजुमन में...

मैंने अपने होंठ बंद कर लिए | Ramakant poetry

मैंने अपने होंठ बंद कर लिए ( Maine apne honth band kar liye )   वक्त ने करवट बदली रिश्तो में दिखावा भर दिया इतनी दरारें आई घर...

काश वो भी याद करें | Kaash Shayari in Hindi

काश वो भी याद करें ( Kash wo bhi yaad kare )   अक्सर वो सपनों में रहते उनसे हम फरियाद करे। दिल तक दस्तक देने वाले काश...

हृदयांग संस्था द्वारा राष्ट्रीय कवि सम्मेलन

ठाणे, मुंबई डा0 काशिनाथ घाणेकर प्रेक्षागार में शुक्रवार, 26 अगस्त 2022 को आजादी की 75वीं वर्षगाँठ - अमृत महोत्सव पर राष्ट्रीय कविसम्मेलन आयोजित किया...

लालसा | Poem laalasa

लालसा ( Laalasa )   लालसा न चाह का है  ,जीवन में कुछ पाने को लालसा न बड़ा बनू, न बहुत कुछ कर जाने को छीन कर खुशियां किसी...

मां | Kavita maa

मां ( Maa ) मां को समर्पित एक कविता     कहां है मेरी मां उससे मुझको मिला दो l हाथों का बना खाना मुझको खिला दो l   दो पल की...

मौन बोलता है | Poem maun bolata hai

मौन बोलता है ( Maun bolata hai )   कभी-कभी एक चुप्पी भी बवाल खड़ा कर देती है। छोटी सी होती बात मगर मामला बड़ा कर देती है।   मौन...

गीतों को सौगात समझना | Poem geeton ko saugaat samajhna

गीतों को सौगात समझना ( Geeton ko saugaat samajhna )   काव्य भावों को समझ सको तो हर बात समझना मैंने लिखे हैं गीत नए गीतों को सौगात...

अनुभूति शर्मा को शब्द आराधना और बेटी प्रतिभा सम्मान

छिंदवाड़ा - साहित्य, संस्कृति एवं अध्यात्म जगत से जुड़ी अनुभूति शर्मा को साहित्य संस्कृति के क्षेत्र मे किये गए उत्कृष्ट कार्यो के लिए 'शब्द...

चेहरे का नूर वो ही थी | Poem chehre ka noor

चेहरे का नूर वो ही थी ( Chehre ka noor wo hi thi )   वो ही प्रेरणा वो ही उमंगे वो मेरा गुरूर थी भावों की अभिव्यक्ति...