Home 2021 April

Monthly Archives: April 2021

कोरोना पर दोहे | Corona par dohe

कोरोना पर दोहे ( Corona par dohe )   समय चक्र का खेल नया, कोरोना  की  चाल। अर्थव्यवस्था चौपट हुई, जनजीवन  बदहाल ।   सारे घर में बंद हुए, लक्ष्मण रेखा भीतर । सामाजिक...

भोर की किरण | Kavita

भोर की किरण ( Bhor ki kiran )   भोर की पहली किरण उर चेतना का भाव है उषा का उजाला जग में रवि तेज का प्रभाव है   आशाओं की...

मुहब्बत में मुझे धोखा दिया है | Sad Ghazal

मुहब्बत में मुझे धोखा दिया है ( Muhabbat me mujhe dhokha diya hai )     मुहब्बत में मुझे धोखा दिया है किसी ने दर्द ग़म ऐसा दिया है दवा...

कुंडली | Kavita

कुंडली ( Kundali )   आम जनता झेल रही विकट समय की मार कोरोना ने कर दिया जग का बंटाधार जग का बंटाधार कहर कोरोना बनकर डसता जहरी नाग कालिया जन को तनकर कह सोनी...

कोरोना का सीजन | Kavita

कोरोना का सीजन ( Corona ka season )   कोरोना का सीजन कोरोना का सीजन बढ़े रोग दिन दिन घटे ऑक्सीजन कोरोना का सीजन.......2 मार्च में आए अप्रैल में छाए पूरी...

मैं नहीं हम की बात | Kavita

मैं नहीं हम की बात ( Main Nahi Hum Ki Baat )     करें बंद अब,धरम की बातें। गंगा और जमजम की बातें।   चोटिल हैं ज़ज्बात अभी बस, करें  फकत ...

कोरोना काल का पक्ष एक और | Kavita

कोरोना काल का पक्ष एक और! ( Corona Kal Ka Pach Ek Or )   जरा सोचें समझें कैसा है यह दौर? भविष्य हमारा किधर जा रहा है? देखो...

आपस में रखें भाईचारा | Kavita

आपस में रखें भाईचारा ( Aapas me rakhe bhaichara )   उत्तम यही है विचार धारा बेबस बेकशों का सहारा सदियों से यही हमारी रीति हमें चाहिए सबकी प्रीति इसी ध्येय...

खरीद खरीद कर थक गया हूं | Kavita

खरीद खरीद कर थक गया हूं ( Khareed khareed kar thak gaya hoon )   सेनेटाइजर खरीदा खरीदा आक्सीमीटर मास्क साथ में हैण्डवाश लाया आयुष काढ़ा तब जबकि आमदनी हुई आधा पीया...

हे नाथ बचा लो | Kavita

हे नाथ बचा लो ( He nath bacha lo )   जग के सारे नर नारी रट रहे माधव मुरलीधारी यशोदा नंदन आ जाओ मोहन प्यारे बनवारी   चक्र सुदर्शन लेकर प्रभु नियति...