होम 2022 जून

मासिक आर्काइव: जून 2022

मांँ की याद | Maa ki yaad | Chhand

मांँ की याद ( Maa ki yaad )   जलहरण घनाक्षरी   जब मांँ नहीं होती है, वो याद बहुत आती। ममता की मूरत मांँ, तेरी याद सताती है।   चरणों में स्वर्ग...

किया था प्यार मगर | Shayari pyar ki

किया था प्यार मगर ( Kiya tha pyar magar )   किया था प्यार मगर हमनें जताया ही नही। वो कैसे जानती जो हमने बताया ही नही। रहा अफसोस...

चहक चिट्ठी की | Chahak chithi ki | Chhand

चहक चिट्ठी की ( Chahak chithi ki ) मनहरण घनाक्षरी   जब भी डाकिया आता, पत्रों का पिटारा लाता। चिट्ठियों का इंतजार, बेसब्री से करते हैं।   भावन उर उमंगे, जगे चहक चिट्ठी की। गांव...

वक्त तुमने मुझे यूँ झुका तो लिया | Motivational poem...

वक्त तुमने मुझे यूँ झुका तो लिया ( Waqt tumne mujhe yun jhuka to liya )     वक्त तुमने मुझे यूँ झुका तो लिया, हौसलों को मेरे न...

चाहतों का नजीर लगता नहीं | Chahat shayari

चाहतों का नजीर लगता नहीं ( Chahaton ka nazeer lagta nahin )     चाहतों का नजीर लगता नहीं कोई दिल से अमीर लगता नहीं   आज के दौर में मुझे ...

मुझको दिखाता हर लम्हा गरूर है | Heart touching ghazal in...

मुझको दिखाता हर लम्हा गरूर है! ( Mujhko dikhata har lamha garoor hai )     मुझको दिखाता हर लम्हा गरूर है! हर व़क्त रखता वो चेहरा गरूर है   तुझसे ...

नहीं घर में रोटी रखी हुई है | Poem on roti...

नहीं घर में रोटी रखी हुई है ( Nahin ghar mein roti rakhi hui hai )     नहीं घर में रोटी रक्खी हुई है! यहाँ तो भूख यूं...

“बंकिमचंद्र के जन्मदिन पर अंतरराष्ट्रीय कवि सम्मेलन”

भारतीय स्वतंत्रता काल में क्रांतिकारियों का प्रेरणास्रोत -'वंदे मातरम्'- जो 1937 में भारत का राष्ट्रगीत बन गया, जिसके रचयिता बंग्ला भाषा के प्रख्यात उपन्यासकार...

प्यार मोहब्बत की सब बातें | Pyar mohabbat ki sab baatein

प्यार मोहब्बत की सब बातें ( Pyar mohabbat ki sab baatein )   प्यार मोहब्बत की सब बातें, दफन हो गयी सीने में। अब तो याद रही बस...

कल तक गिना रहे थे, जफाओं की वो मिसाल | Ghazal

कल तक गिना रहे थे,जफाओं की वो मिसाल ( Kal tak gina rahe the jafaon ki wo misaal )     कल तक गिना रहे थे जफाओं की...