Bhojpuri Kavita | Bhojpuri Poetry -बात मानीं देवर जी

बात मानीं देवर जी! ( Baat Mani Devar Jee Bhojpuri Kavita ) ***** (भोजपुरी भाषा में) ------------------------ चाल ऊहे बा ढाल ऊहे बा ऊहे बा अबहूं तेवर बदल गइल बा अब त#...

कलयुग | Kalyug par Bhojpuri Kavita

" कलयुग " ( Kalyug )   धधक-धधक अब धधक रहल बा चिंगारी अब भड़क रहल बा लोगन में बा फुटल गुस्सा हर जान अब तड़प रहल बा कहीं आवाज अउर...

मजबूर | Bhojpuri kavita majboor

मजबूर ( Majboor )   खुन के छिट्टा पडल, अउर पागल हो ग‌इल ना कवनो जुर्म क‌इलक, कवन दुनिया में खो ग‌इल जब तक उ रहे दिवाना, शान अउर...

बेचारा | Bechar Bhojpuri Kavita

बेचारा ( Bechara )   जब से गरीबी के चपेट में आइल भूख, दर्द, इच्छा सब कुछ मराइल खेलें कुदे के उम्र में जूठा थाली सबके मजाइल का गलती, केके क‌इलक...

कबड्डी | Bhojpuri bal kavita kabaddi

" कबड्डी " (ल‌इकन के कविता)   आव कबड्डी खेली हम, रेखा के एने ठॆली हम, दऊड़-दऊड़ के पकड़ी हम, एने-ओने जकडी हम शोर मचाई दऊड़ल जाई उठा पटक हूडदूग मचाई कबो...

रोपया | Poem on rupees in Bhojpuri

" रोपया " ( Ropya )    रोपया के ना कवनो जात जे के ज्यादा उहे बाप उहे दादा उहे भाई चाहे हो क‌ईसनो कमाई रोपया से समान मिलेला जित धरम अउर...

गिर के उठनी | Bhojpuri Kavita Gir ke Uthani

" गिर के उठनी " ( Gir ke uthani )   आज उठे के समय हमरा मिलल देख हमरा के कवनो जल उठल खिंच देलक गोंड हमर ऐ तरह...

हडिया | Haria Bhojpuri Kahani

" हडिया " ( Haria )  एगो गांव में एगो लड़की रहे उ बहुत सुन्दर रहे लेकिन उ बहुत झगडाईन रहे । गांव के सारा...

हे प्रभु | Hey Prabhu Bhojpuri Kavita

हे प्रभु! ( Hey Prabhu )    मिटा द मन के लोभ सब कुछ पावे के जे हमरा लागल बा दिल पे चोट हे प्रभु! मिटा द मन के लोभ दे सकऽ...

ताक द हम पे हे भगवान | Hey Bhagwan Bhojpuri Kavita

ताक द हम पे हे भगवान ( Taak da hum pe hey Bhagwan )    अब उब गईल बानी इ जिंदगी से कहवा बा तोहर ध्यान हम अग्यानी, मुरख,...