Home 2020 September

Monthly Archives: September 2020

धूप उल्फ़त लेकर उगा सूरज

धूप उल्फ़त लेकर उगा सूरज    धूप उल्फ़त लेकर उगा सूरज नफ़रतों का वो ढ़ल गया सूरज   दूर करके अंधेरे नफ़रत के प्यार की धूप दें रहा सूरज   आज मौसम...

मृत्युबोध

मृत्युबोध   कुछ धुंवा से द्वंद मंडराने लगे हैं। मृत्यु तत्व महत्व समझाने लगे हैं।। ऐषणाओं से सने, जीवन से मुक्ति, बन मुमुक्षु अन्यथा, है मृत्यु युक्ति,। अनसुनी सी बात...

शान तिरंगे की

शान तिरंगे की   सबसे ऊंची आज जगत् में शान तिरंगे की । वर्षों बाद लौटी है पहचान तिरंगे की।।   अब बीच खङी ये नफ़रत की दीवार गिरने दो। अमन पैग़ाम है...

सच कहे प्यार से जिंदगी लुट रही

सच कहे प्यार से जिंदगी लुट रही   सच कहे प्यार से जिंदगी लुट रही नफ़रतों में अपनी है ख़ुशी लुट रही   बेवफ़ा के ख़ंजर मेरे है प्यार...

15 अगस्त (कविता)

15 अगस्त (कविता)   आज     15    अगस्त    है। उत्साह       जबरदस्त   है।।   आओ       यशोगान      करें ऊंची     इसकी    शान  करें। देशप्रेम   पर  कुछ कहने का आज      सही     वक्त    है।।   गौरवशाली     देश     हमारा शहीदों की  आंखों...

प्यार का दें दें उसे तू फूल

प्यार का दें दें उसे तू फूल   प्यार का दें दें उसे तू फूल मौक़ा देखकर उस हंसी के घर जाना तू आज़म पहरा देखकर   बात दिल...

संसार

संसार *** ईश्वर तेरे संसार का बदल रहा है रूप-रंग, देख सब हैं चकित और दंग। क्षीण हो रहा है वनों का आकार, जीवों में भी दिख रहा बदला...

छोड़कर साथ मेरा जाओ नहीं

छोड़कर साथ मेरा जाओ नहीं   छोड़कर साथ मेरा जाओ नहीं इस तरह से मुझे रुलाओ नहीं   अब हक़ीक़त में आओ सनम अब मेरे रोज़ यूं ख़्वाब में मेरे...

मां

मां   मां एक अनबूझ पहेली है, मां सबकी सच्ची सहेली है, परिवार में रहती अकेली है, गृहस्थी का गुरुतर भार ले ली है। ऐ मां पहले बेटी,फिर धर्मपत्नी, बाद में...

स्वर्ग-नर्क

स्वर्ग-नर्क   स्वर्ग है या नर्क है कुछ और है ये। तूं बाहर मत देख तेरे ठौर है ये।। तेरे मन की हो गयी तो स्वर्ग है। मन से...