धरा | Dhara kavita

 "धरा"  ( Dhara )     "धरा"नहीं, तो क्या"धरा" || धरती-भूमि-धरा-प्रथ्वी-हम सब का अभिमान है | बसते हैं नर-जीव-जन्तु जो, उन सब पर बरदान है | प्रथम गोद माँ की होती...

सुनहरी सुबह  | Kavita

    सुनहरी सुबह   ( Sunahri subah )      सुनहरी सुबह नि:स्वार्थ भाव से प्रतिदिन सुबह आती है || आँख बंद थी अभी, खोए थे मीठे सपनों में | कुछ...

कितना सहा होगा | Vedna kavita

 कितना सहा होगा  ( Kitna saha hoga)   कितना सहा होगा उन गर्भवती औरतों ने सड़क पर चलते हुए दर्द नंगे पैरों ,उखड़े कदमों से भूखे पेट और उतरे चेहरे से।। कितनी...

बदल गया है | Hindi mein kavita

 बदल गया है  ( Badal gaya hai )   बदल गया है लोगों के रहने का,चलने का खाने का, पीने का उठने का,बैठने का एक-दूसरे मिलने का साथ-साथ चलने का ढंग.............।   बदल गया है...

तेरी मोहब्बत में | Pyar par kavita

 तेरी मोहब्बत में  ( Teri mohabbat mein )   मोहब्बत का नशा मुझे , इस कदर छाने लगा है , कि सपनों में चेहरा , उसी का आने लगा है...

2020, Only Save Life kavita

2020, Only Save Life     ->हाँ ये साल 2020, सिर्फ जीवन बचाने को है || 1.लाखों बेघर, करोडों रोड पर, बस घर जाने को है | कई ट्रेनों...

ऐसा हो संसार जहाँ पर | Sansar kavita

  ऐसा हो संसार जहाँ पर   आओ मिलकर करें कल्पना हम ऐसे संसार की। जहाँ भावना त्याग समर्पण प्रेम और उपकार की।। ऐसा हो संसार जहाँ पर, सब...

नन्ही चिड़िया की सीख | Chidiya Poem in Hindi

 नन्ही चिड़िया की सीख  ( Nanhi chidiya ki seekh )   ...नन्ही चिड़िया की सीख..........|| 1. नन्ही-मुन्ही,नीली-पीली,लाल-गुलाबी,सतरंगी | चिडिया उडती डाल-डाल पर,पंख फैलाए बहुरंगी | पत्ती-पत्ती,बूटा-बूटा,सब स्वागत उसका करते हैं...

वो मजदूर है | Mazdoor kavita

 वो मजदूर है ( Wo mazdoor hai : Kavita )   अरे! वो मजदूर हैं इसीलिये तो वो मजबूर हैं उनकी मजबूरी किसी ने न जानी मीलों का सफर तय...

माना कि तुम | Love kavita

  माना कि तुम ( Mana ki tum )     माना कि इन हाथों की लकीरों में तुम नहीं....…..... फिर भी मुझमें तुम शामिल हो, लकीरें तो उनके हाथ में भी नहीं होती जिनके...